दार्जीलिंग के बारे में जानकारी

दार्जिलिंग एक बहुत ही पॅापुलर हिल स्टेशन है। यह हिमालयन रेंज में लोकेटेड है। यहां से कंचनजंघा बहुत ही खूबसूरत लगता है- दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी हिमालय की चोटी है। दार्जिलिंग अपनी प्राकृतिक सुंदरता, बर्फ से ढकी हिमालय, और चाय बागानों के लिए मशहूर है। यहां हर साल देश-विदेश से लाखों टूरिस्ट आते हैं। दार्जिलिंग गर्मियों के मौसम में जाना बेस्ट होता है।

दार्जिलिंग का इतिहास दार्जिलिंग का इतिहास19वीं सदी की है। इससे पहले इस शहर पर सिक्किम के राजाओं का राज था। ब्रिटिश राज के दौरान दार्जिलिंग अपने शांत जलवायु के कारण एक फेमस टूरिस्ट प्लेस था। ब्रिटीशों में बहुत पॅापुलर हो गया था, जिन्होंने बाद में यहां स्कूल और बड़े-बड़े इमारत बनाए। यह 1864 में बंगाल प्रेसीडेंसी की ग्रीष्मकालीन राजधानी बन गई थी। 1856 में दार्जिलिंग में चाय पेश किया गया था और इसके कारण कई ब्रिटिश लोग यहाँ बस गए थे।

दार्जिलिंग की संस्कृति दार्जिलिंग अपने अनेकों प्रकार और स्वाद के चाय के लिए पूरे देशभर में फेमस है। यह टूरिस्ट के लिए सबसे ज़्यादा अटरैक्शन है। यहां का चाय गार्डन पूरे शहर को और भी ज़्यादा खूबसूरत बना देता है। यहां के इस अनोखे चाय गार्डन के कारण टूरिस्ट यहां रूकने को मजबूर हो जाते हैं और देखते हैं की चाय कैसे बनती है। यहां पर ज़्यादातर गोरखा, तिब्बत, बंगाली, बिहारी और चाइनिज लोग आपको देखने को मिलेंगे।

दार्जिलिंग में करने की चीज़े दार्जिलिंग का Toy train बहुत ही फेमस है। यहां का सबसे पॅापुलर है जीप राईड है जो टाइगर हील तक जाती है। घुम मोनास्ट्री यहां का बहुत ही पुराना मोनास्ट्री है, जहां पर आपको बहुत अच्छे और पुरानी किताबें मिल जाएंगी। यहां का हाइकिंग और ट्रेकिंग बहुत ही फेमस है।

Published by

sadanandgiridihgmailcom

kuchh v kho par ye mat kahna ki ham tumhare hain .

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s